Delhi Alert: दिल्ली में अभी और सताएगी गर्मी, जानिए कब तक है राहत की उम्मीद

Advertisement

Delhi Alert: अगर आप दिल्ली में रह रहे हैं तो आपके लिए ये जरूरी खबर है. पिछले दो दिनों से दिल्ली में गर्मी बेतहाशा पड़ रही है और अभी भी इससे राहत की उम्मीद नहीं दिख रही है. भारतीय मौसम विभाग (IMD) पहले ही ऑरेंज एलर्ट जारी कर चुकी है और आज शनिवार (14 मई) को पारा 46-47 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच सकता है. शुक्रवार को दिल्ली के बेस स्टेशन सफदरजंग ऑब्जरेवटरी पर शुक्रवार को 42.5 डिग्री तापमान रिकॉर्ड किया गया जिसके आज 44 डिग्री पहुंचने के आसार हैं.नजफगढ़ में शुक्रवार को 46.1 डिग्री तापमान रहा.

Advertisement

RomsPizza Yamunanagar ।। Tasty & Cheapest Pizza Ever ll Pizza Burger Lovers

रविवार की बात करें तो कल (15 मई) के लिए मौसम विभाग ने येलो एलर्ट जारी किया है ताकि लोगों को रविवार को हीटवेव की आशंका को लेकर सावधान किया जाए. यह विभाग चेतावनियों को चार रंगों के कोड में जारी करती है- हरा (कोई कार्रवाई की जरूरत नहीं), पीला (देखिए और खुद को अपडेट करते रहिए), ऑरेंज (तैयार हो जाइए) और लाल (एक्शन लीजिए).

करनाल: खाटू श्याम के दर्शन कर लौट रहे परिवार की कार डिवाइडर से टकराई, मां-बेटे की मौत, 3 घायल

अगले हफ्ते राहत की उम्मीद, बारिश को लेकर ये है अनुमान

आईएमडी के मुताबिक शनिवार और रविवार को गर्मी सताएगी लेकिन अगले हफ्ते राहत मिल सकती है. मौसम विभाग का मानना है कि अगले हफ्ते बादल भरे आसमान और आंधी से तापमान में गिरावट आ सकती है. दिल्ली के लिए वर्ष 1951 के बाद से पिछला महीना दूसरा सबसे गर्म अप्रैल माह रहा. पश्चिमी डिस्टर्बेंस के चलते बारिश कम हुई जिसके चलते गर्मी बढ़ी और औसत तापमान 40.2 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया. देश के कुछ हिस्सा में महीने के अंत में पारा 46-47 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया. हालांकि अब मौसम विभाग का मानना है कि इस साल दक्षिण-पश्चिम मानसून समय से पहले पहुंच सकता है औह यह 1 जून की बजाय चार दिन पहले 27 मई को केरल के तट पर आ जाएगा. अगर ऐसा होता है तो वर्ष 2009 के बाद से यह पहली बार होगा जब मानसून इतनी जल्दी केरल के तट पर पहुंचेगा.

 

चौकीदार को डंडो से पीटकर मारने के दोषी को उम्रकैद, दोषी ने जो अपराध किया, वह समाज के खिलाफ : कोर्ट

कब होती है हीटवेव की स्थिति?

Met Office हीटवेव की स्थिति तब घोषित करता है, जब अधिकतम तापमान 40 डिग्री सेल्सियस से अधिक हो जाए और नॉर्मल से कम से कम 4.5 नाच (Notches) ऊपर रहे. हीटवेव को तीखा तब घोषित किया जाता है, जब नॉर्मल तापमान 6.4 डिग्री सेल्सियस अधिक हो जाएगा. एबसॉल्यूट टेंपरेचर के आधार पर एमईटी ऑफिस हीटवेव तब घोषित करती है जब किसी इलाके में अधिकतम तापमान 45 डिग्री सेल्सियस हो जाए और इसे गंभीर तब घोषित किया जाता है, जब यह 47 डिग्री सेल्सियस को पार कर जाए.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here