व्यापारियों की समस्या और समाधान को लेकर खाद्य पूर्ति व्यापार संघ हरियाणा प्रदेश कार्यकारिणी ने जारी की हैल्पलाइन नंबरस की लिस्ट

Advertisement

खाद्य पूर्ति व्यापार संघ की एक बैठक हुई जिसमें व्यापारी भाईयों की समस्याओ व उन्के समाधान को लेकर प्रदेश कार्यकारिणी के पदाधिकारियों के फोन नंबरों की लिस्ट प्रदेश अध्यक्ष राजेश सेठ द्वारा जारी की गई उनके साथ प्रदेश मीडिया प्रभारी कपिल मनीष गर्ग मौजूद रहे,
खाध पूर्ति व्यापार संघ के प्रदेश संयोजक राजेश सेठ ने बताया कि आज जारी की गई हैल्पलाइन लिस्ट में प्रदेश के प्रमुख पदाधिकारियों के नाम एवं फोन नंबर दिए गए हैं इसके में कोई भी व्यापारी भाई व्हाट्सएप के माध्यम से अपनी समस्या बता सकता है इन सब समस्याओं को सरकार को अवगत कराया जाएगा ,कोरोना महामारी से हम सबको मिलकर इस से लड़ना है और इस महामारी से छुटकारा पाना है ,हमारे पूरे व्यापारिक समाज से अपील है की समस्या और समाधान मुहिम को मीडिया के माध्यम से सोशल मीडिया के माध्यम से जन-जन तक पहुंचाएं जितना बड़े संगठन के रूप में हम अपनी समस्या सामने रखेंगे उत्तरी ज्यादा मदद हम सरकार से ले पाएंगे और जो भी परेशानी व्यापार मैं आ रही है अगर हम आपस में मिलकर किसी व्यापारी भाई की कोई भी मदद कर सकते हैं तो जरूर करने की कोशिश करें बैठक में खाद्य पूर्ति व्यापार संघ के प्रदेश मीडिया प्रभारी कपिल मनीष गर्ग ने बताया कि कोविड़ 19 संक्रमण के चलते सरकार द्वारा हिदायतें दी गई हैं कि एक जगह पर ज्यादा लोगों को इकट्ठे नहीं होना है ,उन्ही हिदायतों की पालना करते हुए खाद्य पूर्ति व्यापार संघ की प्रदेश कार्यकारिणी ने निर्णय लिया कि खाध पूर्ति व्यापार संघ के प्रदेश पदाधिकारियों के मोबाइल नंबर हैल्पलाइन के रूप में जारी किए जाएंगे जिससे व्यापारी भाई हैल्पलाइन नंबर पर फोन करके व व्हाट्सएप के माध्यम से संपर्क करके अपनी समस्या बता सकते हैं ,उनकी समस्याओं को जानकर अतिशीघ्र उनका अधिकारियों व सरकार के माध्यम से समाधान करवाया जाएगा,कपिल मनीष गर्ग ने आज जो लिस्ट जारी कि उसमें विक्रांत धमीजा हिसार मोबाइल 9215000882,राजेश सेठ 9215700700,कपिल मनीष गर्ग 9315955203,संजय दुआ 9812177664,विवेक अम्बाला 9355492744,.धर्मेंद्र पानीपत 8708293290,सुनील रोहतक 7011502881,विनय जींद 9215584675 आदि हेल्पलाइन नम्बरस जारी किए

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here