लम्पी बीमारी की चपेट में आई 2 हजार गाय, 35 ने तोड़ा दम

Advertisement

यमुनानगर: यमुनानगर में दडवा डेयरी कांप्लेक्स में लंबे समय से भरा हुआ गोबर युक्त पानी अब लोगों के लिए मुसीबत बनता जा रहा है। गलियों में भरे हुए गोबर से कई बीमारियों को जन्म मिल रहा है। जिले में लम्पी बीमारी के फैलने से 2000 के करीब गाय, उसकी चपेट में आ चुकी है और 35 गाय इस बीमारी से दम भी तोड़ चुकी है। डेयरी संचालकों ने आरोप लगाया कि कई बार प्रशासन को इसके बारे में शिकायत भी की है, लेकिन अब तक प्रशासन और पशु पालन विभाग ने इस ओर कोई ध्यान नहीं दिया।

Advertisement

जगाधरी बुढ़िया गेट पुलिस चौकी के बाहर महिलाएं क्यों बैठी दरी बिछाकर? आधी रात को क्या हुआ

बिना बरसात के गलियों में दो से तीन फीट तक भरा हुआ पानी यमुनानगर के दडवा डेयरी कांप्लेक्स का है। यहां की नालिया पूरी तरह से गोबर से अटी पड़ी है। इन नालियों से लेकर बड़े नालो तक पानी की निकासी संभव नहीं है। पशु पालन व निगम एक दूसरे पर आरोप लगा रहा है। गौरतलब है कि दडवा डेयरी कांप्लेक्स में पानी की निकासी न होने के कारण पशु बीमार हो रहे है। तो वही लम्पी बीमारी ने डेयरी कॉम्प्लेक्स में अपना पांव पसारने शुरू कर दिए है। डेयरी संचालको भी इसको लेकर कई बार प्रशासन से लेकर निगम अधिकारियों को इसकी शिकायत दी चुके है, लेकिन अभी तक प्रशासन ने इस ओर ध्यान नहीं दिया।

हादसा:रौनकपुर डेरा के पास जम्पर लगाने ट्रांसफॉर्मर पर चढ़े लाइनमैन संजय की करंट लगने से मौत

उन्होंने कहा की जिले में लगभग 2000 के करीब गाय इस बीमारी की चपेट में है। 35 गाय इस बीमारी से दम तोड़ चुकी है। हालात यह है कि इस बीमारी की चपेट में आई गाय अभी भी जिंदगी और मौत के बीच जंग लड रही है। ज्यादातर गाय अब उठ भी नहीं पा रही और ऐसे में डेयरी संचालक उन गायों को लेकर भी काफी चिंतित है और इन बातों को लेकर डेयरी संचालकों को दोहरी मार पड़ती दिखाई दे रही है। डेयरी कांप्लेक्स के हालात देख कोई, यहा आना भी पसंद नही कर रहा है और लोगों ने अब इन डेयरी संचालको से दूध भी लेना बंद कर दिया है।

पुलिस ने दबोचा खतरनाक हत्यारा, ₹200 के लिए कर दिया था कत्ल,एसपी मोहित होंडा की प्रेस कॉन्फ्रेंस लाइव

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here