रिलायंस डील पर फ्यूचर ग्रुप ने शेयरधारकों और लेनदारों के साथ पूरी की बैठकें, अमेजन ने किया विरोध

Advertisement

नई दिल्ली, पीटीआइ। फ्यूचर रिटेल समेत फ्यूचर समूह की सूचीबद्ध कंपनियों ने अरबपति मुकेश अंबानी की रिलायंस रिटेल वेंचर्स लिमिटेड को अपनी संपत्ति बेचने के 24,713 करोड़ रुपये के सौदे पर विचार करने और उसे मंजूरी देने के लिए अपने संबंधित शेयरधारकों तथा लेनदारों की बैठकें पूरी कर ली हैं। इन कंपनियों में फ्यूचर रिटेल, फ्यूचर एंटरप्राइजेज, फ्यूचर सप्लाई चेन सॉल्यूशंस, फ्यूचर लाइफस्टाइल फैशन, फ्यूचर मार्केट नेटवर्क और फ्यूचर कंज्यूमर शामिल हैं। फ्यूचर समूह की यह बैठकें अमेजन की आपत्तियों के बावजूद की गई हैं।

Advertisement
नियामकीय फाइलिंग में क्या जानकारी दी गई?

सूचीबद्ध कंपनियों ने अलग-अलग नियामकीय फाइलिंग में कहा कि नेशनल कंपनी लॉ ट्रिब्यूनल (एनसीएलटी) द्वारा 28 फरवरी को पारित आदेश के अनुसार, बैठक आयोजित करने के लिए संबंधित व्यक्तियों द्वारा बैठक की अध्यक्षता की गई। बैठकें वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए की गईं और अपेक्षित कोरम मौजूद रहा। सूचीबद्ध कंपनियों के शेयरधारकों की बैठक बुधवार को हुई।

आज होनी है सुरक्षित लेनदारों की बैठक

एनसीएलटी के आदेश के अनुसार, अन्य फ्यूचर ग्रुप होल्डिंग कंपनियों के सुरक्षित लेनदारों की बैठक 22 अप्रैल यानी आयोजित होनी है, , जिसमें एक्यूट रिटेल इंफ्रा, बसुती सेल्स एंड ट्रेडिंग, ब्रैटल फूड्स, चिराग ऑपरेटिंग लीज कंपनी, हरे कृष्णा ऑपरेटिंग लीज, नाइस टेक्सकोट ट्रेडिंग एंड एजेंसी, निष्ठा मॉल मैनेजमेंट शामिल हैं।

अमेजन कर रही है रिलायंस के साथ डील का विरोध

अमेजन ने डील को बताया समझौतों का उल्लंघन

पत्र में अमेजन ने कहा था कि इस तरह के कदम (बैठक) से न केवल 2019 के समझौतों का उल्लंघन होगा जब उसने (अमेजन) एफआरएल की प्रमोटर फर्म में निवेश किया था, बल्कि रिलायंस को खुदरा संपत्ति की बिक्री, सिंगापुर मध्यस्थ न्यायाधिकरण के आदेश का उल्लंघन है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here