निर्मम हत्या:सिक्कों की तलाश में नहर में उतरे गोताखोरों को कट्टे में मिला युवक का शव, गर्दन, टांग व कान पर कट लगे थे

Advertisement

सिक्कों की तलाश में पश्चिमी यमुना नहर में उतरे गोताखोरों को कैनाल रेस्ट हाउस एवं ग्रे पैलिकन रिजोर्ट के पीछे एक कट्टे में युवक का शव मिला। इसे देखकर वे डर गए। उन्होंने सूचना अपने हेड राजीव कुमार को दी। जिसके बाद पुलिस को सूचना दी गई। पुलिस के आने पर नहर से कट्टा बाहर निकाला गया। उसमें करीब 26 साल के युवक का शव था।

Advertisement

उसकी गर्दन, एक टांग, कान को कटा हुआ था। हालांकि ये पार्ट धड़ से अलग नहीं हुए थे, लेकिन बुरी तरह से काटा हुआ था। वहीं, शरीर पर कई जगह तेजधार हथियार से वार किए गए। पुलिस का मानना है कि हत्या कर शव नहर में फेंका गया, लेकिन वह किसी तरह से नहर के किनारे पर आ गया। हालांकि हो सकता है कि जहां पर कट्टा मिला है, वहीं पर फेंका गया हो।

यह एरिया सुनसान है। साेमवार देर शाम तक मृतक की शिनाख्त नहीं हो पाई थी। एसपी मोहित हांडा समेत पुलिस के सभी स्पेशल स्टाफ ने मौके का मुआयना किया। सभी टीमें इस केस को ट्रेस करने में लगी हैं। शहर यमुनानगर थाना प्रभारी कमलजीत सिंह ने बताया कि मृतक की शाम तक शिनाख्त नहीं हुई थी। इस मामले में हत्या का केस दर्ज किया जाएगा।

बड़का के हाथ लगा कट्टा
गोताखोर राजीव कुमार ने बताया कि बाडीमाजरा पुल और उसके आसपास लोग पूजा पाठ के लिए आते हैं। इस दौरान नहर में सिक्के डाल देते हैं। उसके कुछ साथी हैं, जो नहर से वे सिक्के तलाशते हैं। सुबह के समय उसके साथी नहर से सिक्के तलाश रहे थे। इसी दौरान उसके साथी बड़का का हाथ नहर किनारे पानी में पड़े काले रंग के कट्टे पर लगा। वह काफी भारी था। उसके अंदर देखा तो शव था।

पुलिस जब मौके पर पहुंची तो शव को कट्टे से बाहर निकाला गया। मृतक अर्ध नग्न हाल में था। वहीं उसे पॉलीथिन से लपेटा हुआ था। शक है कि रविवार रात उसकी हत्या कर यहां पर फेंका गया। जिस तरह से अर्ध नग्न हालत में मिला है, उससे हो सकता है कि अवैध संबंधों में हत्या की गई हो। हालांकि पुलिस का कहना है कि हत्या किसने और क्यों की यह अभी बताना मुश्किल है।

पुलिस इन एंगल पर जांच कर रही

पुलिस ने सबसे पहले प्रदेश और दूसरे प्रदेश के थानों में मृतक की फोटो शेयर की है, ताकि उसकी शिनाख्त हो सके। वहीं पता लगाया जा रहा है कि जिन थाना एरिया से 25 से 30 साल के युवक लापता है, मृतक उनमें से तो नहीं। इसके साथ ही पुलिस घटनास्थल पर जाने वाले रास्तों पर सीसीटीवी की फुटेज खंगाल रही है। वहीं मोबाइल डंप समेत अन्य टेक्निकल मेथड अपना रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here