टाटा नेक्सन ईवी में आग:इलेक्ट्रिक स्कूटर्स के बाद कार में आग लगने का मामला, सरकार ने दिए स्वतंत्र जांच के आदेश

Advertisement

इलेक्ट्रिक स्कूटर के बाद अब इलेक्ट्रिक कार में आग लगने का मामला सामने आया है। घटना बुधवार देर शाम की मुंबई के वसई रोड की है। यहां टाटा की नेक्सन EV में अचानक आग लग गई और देखते-देखते गाड़ी जलकर खाक हो गई। यह भारत में टाटा की इलेक्ट्रिक कार में आग लगने का पहला मामला है। टाटा और सरकार दोनों ही इस मामले की जांच कर रहे हैं।

Advertisement

शालिनी ने साढौरा में खिलाया कमल:चुन ली साढौरा की सरकार , विधायकी की हार का बदला भाजपा ने कांग्रेस से नगरपालिका में लिया

रिपोर्ट्स के मुताबिक कार मालिक ने ऑफिस में चार्जिंग की थी। जब वो इसे लेकर निकले तो अजीब सी आवाज आने लगी और इंस्ट्रूमेंट क्लस्टर में अलर्ट मिलने लगा। इसे देख कर उन्होंने अपने व्हीकल को साइड में पार्क कर दिया। इसके कुछ देर बाद उसमें आग लग गई।

टाटा मोटर्स जांच में जुटी
इस मामले पर टाटा ने कहा, ‘हम इस घटना की जांच कर रहे हैं और जो भी जानकारी सामने आएगी उसे सभी के साथ शेयर किया जाएगा। हम अपने व्हीकल्स और उनके यूजर्स की सेफ्टी के लिए कमिटेड हैं। देश भर में लगभग 4 सालों में 30,000 से ज्यादा EVs ने कुल 10 करोड़ किलोमीटर से ज्यादा की दूरी तय की है, यह इस तरह की पहली घटना है।’

मामले की स्वतंत्र जांच करेगी सरकार
सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने गुरुवार को कहा कि सरकार ने मुंबई में एक नेक्सन इलेक्ट्रिक वाहन में आग लगने की घटना के स्वतंत्र जांच के आदेश दिए हैं। सेंटर फॉर फायर एक्सप्लोसिव एंड एनवॉयरनमेंट सेफ्टी (CFEES), इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ साइंस (IISc) और नेवल साइंस एंड टेक्नोलॉजिकल लेबोरेटरी (NSTL), विशाखापत्तनम को घटना के कारणों का पता लगाकर इसके बचाव के उपाए सुझाने को कहा गया है।

EV में आग लगने की घटनाएं होती रहेंगी
ओला इलेक्ट्रिक के CEO भाविश अग्रवाल ने कहा, ‘इलेक्ट्रिक व्हीकल्स में आग लगने की घटनाएं सामने आएंगी ही। यह अंतरराष्ट्रीय कंपनियों के बनाए वाहनों में भी होता है। हालांकि इलेक्ट्रिक व्हीकल्स में डीजल-पेट्रोल गाड़ियों की तुलना में आग लगने के मामले काफी कम हैं।’ बता दें कि इससे पहले ओला के इलेक्ट्रिक स्कूटर्स में आग लगने की घटनाएं सामने आई थी।

नेक्सन EV में लगी है लिथियम-आयन बैटरी
टाटा नेक्सन EV की बात करें तो ये भारत में सबसे ज्यादा बिकने वाली इलेक्ट्रिक कार है। इस इलेक्ट्रिक कार में 30.2kWh की लिथियम-आयन बैटरी लगी है। एक बार फुल चार्ज करने पर यह कार 312 किमी की रेंज देती है। कार को DC फास्ट चार्जर का इस्तेमाल करके केवल 60 मिनट में चार्ज किया जा सकता है। रेगुलर चार्जर से 8 घंटे में चार्ज कर सकते हैं।

टेस्ला की कार में भी लग चुकी है आग
दुनियाभर में इलेक्ट्रिक कार में आग लगने की घटनाओं पर नजर डालें तो कई मामले सामने आ चुके हैं। मई 2022 में टेस्ला मॉडल Y में पावर डाउन होने के बाद आग लग गई थी। इस घटना के दौरान ड्राइवर कार के अंदर ही था और उसे खिड़की तोड़कर बाहर निकलना पड़ा था। यह घटना ब्रिटिश कोलंबिया में हुई थी। जमील जुथा नाम का शख्स कार ड्राइव कर रहा था। इसे उसने आठ महीने पहले ही खरीदा था।

मई 2022 में टेस्ला की कार में आग लगने की तस्वीर सोशल मीडिया पर खूब वायरल हुई थी
मई 2022 में टेस्ला की कार में आग लगने की तस्वीर सोशल मीडिया पर खूब वायरल हुई थी

अपने ई-व्हीकल का कैसे रखें ख्याल?
कुछ बातों का ख्याल रखकर कंज्यूमर्स काफी हद तक आग लगने जैसे खतरे टाल सकते हैं।

  • इलेक्ट्रिक व्हीकल को केवल इलेक्ट्रिक व्हीकल मेकर के रेकमेंड चार्जर से ही चार्ज करें।
  • अपने इलेक्ट्रिक व्हीकल को बहुत देर तक धूप में पार्क न करें।
  • चार्जिंग के समय सावधान रहें, पहली बार चार्जिंग से पहले प्रॉसेस समझने के लिए एक्सपर्ट की मदद लें।
  • इलेक्ट्रिक व्हीकल की ओवरचार्जिंग से बचें।
  • चार्जिंग के लिए अच्छे सॉकेट और प्लग का इस्तेमाल करें।
  • नमी चार्जर और बैटरी दोनों के लिए खतरनाक है, इसलिए अपने इलेक्ट्रिक व्हीकल को इससे बचाएं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here