क्राइम:प्लाईवुड कारोबारी के घर चाेरी करने घुसे युवक व युवती, मालिक जागा तो छाती में चाकू मारा

Advertisement

मॉडल टाउन में एसपी आवास से चंद कदम की दूरी पर एक युवक और युवती प्लाईवुड कारोबारी के घर में घुस गए। सुबह करीब साढ़े पांच बजे दोनों घर में घुसे। जब वे घर में चोरी करने लगे तो मालिक की नींद खुल गई। आरोपियों ने उन पर हमला कर दिया। कारोबारी की छाती में चाकू दे मारा। इसमें वे घायल हो गए। उन्हें अस्पताल में ले जाया गया। चाकू हार्ट के करीब लगा।

Advertisement

काराेबारी के भाई ने दोनों आरोपियों को पकड़ कर पुलिस के हवाले कर दिया। आरोपियों पर पुलिस ने केस दर्ज कर लिया। मौके पर डीएसपी कंवलजीत सिंह पुलिस टीम के साथ पहुंचे थे। पीड़ित के घर के पास लगे सीसीटीवी में दिख रहा है कि दोनोें आरोपी आते हैं। सीधे गेट खोलकर अंदर चले जाते हैं। इसके बाद कुछ देर बाद एक बाहर की तरफ भागता है, लेकिन बाद में उसे पकड़ लिया जाता है।

अलमारी खोलकर सामान समेट रहे थे आरोपी, मालिक ने आवाज लगाई तो हमला किया

मॉडल टाउन निवासी चरणजीत सिंह ने शहर यमुनानगर पुलिस को शिकायत दी है कि उसकी प्लाइवुड फैक्ट्री है। आठ दिसंबर की रात को वह अपने मकान में सो रहा था। परिवार के अन्य लोग सुबह पांच बजे उठे तो वे गुरुद्वारा साहिब में माथा टेकने चले गए। वह गेट बंद कर दोबारा अपने कमरे में जाकर सो गया।

सुबह साढ़े पांच बजे उसे लगा कि कमरे में कोई आया है। जब उसकी आंख खुली तो देखा कि एक व्यक्ति अलमारी से सामान चोरी कर रहा था। वहीं कुछ दूरी पर एक महिला खड़ी थी। उसने आवाज लगाई तो दोनों ने उस पर हमला कर दिया। उस पर चाकू से वार किया। चाकू का एक वार उसकी छाती में जा लगा। दूसरा वार बाजू में लगा।

उसने शोर मचाया तो उसका भाई मनप्रीत सिंह मौके पर आ गया। तब महिला और उसके साथी को पकड़ लिया। इस दौरान उन्हें भी चोट लगी। इस दौरान उन्होंने महिला को पहचान लिया। महिला कांसापुर निवासी शिवानी थी। वह उनके घर पर करीब दो साल पहले काम करती थी। वहीं उसके साथी ने अपनी पहचान यूपी के गांव खुर्द निवासी राशिद के रूप में दी।

आरोपियों ने अलमारी में रखे उसके पर्स से पांच हजार रुपए चोरी किए हैं। बाद में दोनों को पुलिस के हवाले कर दिया। वहीं परिवार के लोगों ने उसे अस्पताल में भर्ती कराया। जहां उसका उपचार चल रहा है। इस शिकायत पर धारा- 459 में केस दर्ज किया है।

बता दें कि शिवानी इस घर में काफी समय तक काम करती रही है। घर से कुछ सामान गायब हुआ तो शिवानी पर शक गया, लेकिन तब कोई सबूत ऐसा नहीं था कि पता चल सके कि उसी ने सामान गायब किया है। तब उसे मालिक ने अपने यहां से हटा दिया था। हालांकि शिवानी को उनके घर के बारे में सब पता था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here