किसानों द्वारा दिल्ली सिंघु बॉर्डर के घेराव को 11 महीने पूरे। जिला सचिवालय के बाहर धरना प्रदर्शन।

Advertisement

3 अक्टूबर 2021 को हुए लखीमपुर खीरी हिंसा के बाद से ही किसानों के मन में भारी रोष है। जिस तरह से लखीमपुर खीरी हिंसा के मामले पर जांच हो रही है उसे किसान निराशा और आक्रोश के साथ देख रहा है।

Advertisement

किसानों की मांग है की केंद्रीय गृहमंत्री श्री अजय मिश्रा टेनी को उनके पद से तत्काल बर्खास्त किया जाए‌ व उन पर 120 बी के तहत मुकदमा दर्ज कर तुरंत गिरफ्तार किया जाए। साथ ही किसान यह भी मांग करते हैं कि इस घटना की जांच उच्चतम न्यायालय के प्रत्यक्ष निगरानी में एसआईटी से कराई जाए।

इन मांगों के पूरा ना होने के कारण किसानों ने यमुनानगर जिला सचिवालय के बाहर धरना प्रदर्शन किया व जिला सचिवालय में अपना ज्ञापन सौंपा। आज से ठीक 11 महीने पहले यानी 26 नवंबर 2020 को किसानों ने दिल्ली सिंघु बॉर्डर का घेराव किया था।

पूरी जानकारी के लिए देखें यह वीडियो।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here