किसानों के दिल्ली कूच को लेकर करनाल पुलिस अलर्ट:चंडीगढ़-हिसार-रोहतक के रूट डायवर्ट; कर्ण लेक पर कंटेनर लगाए, 4 कंपनियों का गठन

Advertisement

दिल्ली-चंडीगढ़ हाईवे का रूट डायवर्ट कर दिया है। अंबाला व पंजाब की तरफ से आने वाले रास्तों पर यातायात बंद रहेगा। दिल्ली से चंडीगढ़ जाना चाहते हैं तो उसके लिए अलग रूट तैयार किया गया है, अगर अमृतसर जाना है या फिर चंडीगढ़ से आना है तो उसके लिए भी अलग रूट प्लान तैयार किया गया है।

Advertisement

हिसार से चंडीगढ़ और अंबाला से चंडीगढ़ पहुंचने के लिए भी पुलिस ने अलग-अलग रूट प्लान तैयार किया है। ऐसे में कहीं न कहीं वाहनों के ड्राइवरों को रूट चेंज से होने वाली दिक्कतें झेलनी पड़ सकती हैं।

किसानों के दिल्ली कूच को लेकर पुलिस के साथ मीटिंग करते करनाल SP।
किसानों के दिल्ली कूच को लेकर पुलिस के साथ मीटिंग करते करनाल SP।

किसानों की दिल्ली कूच को लेकर करनाल पुलिस प्रशासन ने इस बार पहले से ज्यादा और पुख्ता तैयारियां कर ली हैं। पिछली बार जब करनाल कर्ण लेक के पास बैरिकेडिंग की गई थी तो उस दौरान पुलिस ने बड़े बड़े ट्रकों को खड़ा किया था, लेकिन किसान उनको एक तरफ करके निकल गए थे, लेकिन इस बार किसानों को रोकने के लिए पुलिस प्रशासन ने बड़े बड़े कंटेनरों को कर्ण लेक के पास खड़ा किया है।

इसके साथ ही बड़े बड़े पत्थर मंगवाए गए है। बैरिकेड्स भी रखवा लिए गए है। पुलिस प्रशासन ने अपनी पूरी तैयारी कर ली है। दावा है कि किसानों को आगे बढ़ने नहीं दिया जाएगा और प्रशासन अपनी तरफ से किसी भी तरह की कोताही नहीं बरतेगा।

करनाल में पुलिस व अतिरिक्त फोर्स की ट्रेनिंग

13 फरवरी को संभावित किसान आंदोलन को लेकर पुलिस अधीक्षक शशांक कुमार सावन ने पुलिस की टुकड़ियों को जरूरी दिशा निर्देश जारी किए गए है। किसी भी स्थिति से निपटने के लिए एल्फा, ब्रावो, चार्ली व डेल्टा नाम से विशेष चार कंपनियों का गठन किया गया है और प्रत्येक कम्पनी में करीब 100 जवानों को नियुक्त किया गया है। गठित की गई कंपनियों में नियुक्त किए गए सभी जवानों को विशेष प्रशिक्षण दिया जा रहा है।

बलड़ी बाइपास से वाहनों की इंद्री की तरफ भेजती पुलिस।
बलड़ी बाइपास से वाहनों की इंद्री की तरफ भेजती पुलिस।

सभी तरह के उपकरणों का दिया गया परीक्षण

सभी कंपनियां DSP रैंक के अधिकारी के अंतर्गत विशेष अभ्यास कर रही है। संभावित किसान आंदोलन को देखते हुए पुलिस अधीक्षक करनाल शशांक कुमार सावन की देखरेख में शनिवार को पुलिस लाईन करनाल में जवानों को एन्टी रायेंट गन व बड बुलेट के फायर करवाए व टीयर गैस टीम को विशेष परीक्षण देकर शॉर्ट रेंज व लोंग रेंज सैल से अभ्यास कराया गया और दंगा रोधक उपकरणों से ड्रील करवाई गई।

इस विशेष अभ्यास मे ड्रोन कैमरों को भी शामिल किया गया। आज के प्रशिक्षण में स्वेट टीम, कमांडो, वज्रा, वाटर कैनन, टीयर गैस टीम, एल्फा, ब्रावो, चार्ली व डेल्टा नामक विशेष चार कम्पनियों के पुलिसकर्मियों ने भाग लिया व इस प्रशिक्षण के दौरान पुलिस कर्मचारियों ने गैस गन फायर, टीयर गैस फायर, स्टैनसैल फायर, एन्टी रायेंट गन फायर, रबर बुलेट फायर किए व वज्रा, वाटर कैनन को भी प्रशिक्षण के दौरान शामिल किया गया।

करनाल पुलिस लाइन में पुलिसकर्मी प्रशिक्षण लेते हुए।
करनाल पुलिस लाइन में पुलिसकर्मी प्रशिक्षण लेते हुए।

सोशल मीडिया की पोस्टों पर पुलिस की नजर

SP शशांक कुमार सावन ने कहा कि आंदोलन की आड़ में कुछ असामाजिक तत्व अपना स्वार्थ साधने के लिए अफवाहों के माध्यम से शांति भंग करने का भी प्रयास कर सकते हैं। पुलिस की सोशल मीडिया पर भी पैनी नजर है। किसी भी प्रकार की अफवाह तथा भ्रांति फैलाने वाली, भड़काऊ, उकसाने वाली व अराजकता फैलाने वाली पोस्ट शेयर या फॉरवर्ड की जाती है तो उसके विरुद्ध नियमानुसार कड़ी कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

दिल्ली से चंडीगढ़ जाने के लिए रूट

पुलिस ने रूट प्लाट तैयार कर दिया है। ऐसे में वाहन चालकों को रूट प्लाट के हिसाब से चलना होगा। दिल्ली से चंडीगढ़ जाने वाले वाहनों के लिए दिल्ली→ सोनीपत→पानीपत→करनाल→इन्द्री→लाडवा या करनाल→कुरुक्षेत्र→उमरी चौक→लाडवा→रादौर→यमुनानगर→एन एच 344ए →मुलाना→शहजादपुर→बरवाला→पंचकुला होते हुए चंडीगढ़ जा सकते है। इसके अलावा कुरुक्षेत्र→शाहबाद → साहा→शहजादपुर→पंचकुला होते हुए भी दिल्ली से चंडीगढ़ जा सकते हैं।

बलड़ी बाइपास पर तैनात पुलिस।
बलड़ी बाइपास पर तैनात पुलिस।

दिल्ली से पंजाब आने वाले वाहनों के लिए रूट

दिल्ली से पटियाला, लुधियाना, जालन्धर, अमृतसर इत्यादि पंजाब में आने वाले वाहन सोनीपत→पानीपत→करनाल→पिपली चौक से बाई तरफ मुड़कर कुरुक्षेत्र→पेहवा→चीका→पटियाला→लुधियाना →अमृमसर जा सकते है। पंजाब से दिल्ली जाने वाले वाहन अमृतसर→जालन्धर→ लुधियाना→ चीका → पेहवा →एनएच-152डी से होकर जा सकते हैं।

चंडीगढ़ से दिल्ली रूट

चंडीगढ़ से दिल्ली जाने वाले वाहन पंचकूला→सामगढ़ →बरवाला →शहजादपुर→ मुलाना→ राष्ट्रीय राजमार्ग नंबर 344 से होकर यमुनानगर→ रादौर→ लाड़वा→इन्द्री→करनाल→पानीपत→सोनीपत→दिल्ली जा सकते हैं। इसके अतिरिक्त चंडीगढ से दिल्ली जाने वाले वाहन पंचकूला→रामगढ़→ बरवाला→ शहजादपुर →साहा→ शाहबाद→ पीपली→ करनाल से होकर भी दिल्ली जा सकते है।

हिसार की तरफ आना जाना हो तो यह रूट

हिसार से चंडीगढ़ जाने वाले वाहन बरवाला→ नरवाना →कैथल→ चीका→ पटियाला से चंडीगढ़ जा सकते हैंं। इसके अलावा चंडीगढ से हिसार जाने वाले वाहन चण्डीगढ़→पटियाला →चीका →कैथल→ नरवाना→ बरवाला से हिसार जा सकते हैं। अगर काेई नारनौल, दिल्ली व रोहतक से चंडीगढ़ जाना चाहता है तो वह एनएच 152जी →पेहवा कट से नीचे उतरकर चीका →पटियाला से चंडीगढ़ जा सकते हैं।

नेशनल हाईवे पर पुलिस द्वारा बस लगाकर रोके गए रास्ते का दृश्य।
नेशनल हाईवे पर पुलिस द्वारा बस लगाकर रोके गए रास्ते का दृश्य।

रोहतक जाने के लिए रूट

चंडीगढ़ से रोहतक, दिल्ली, नारनौल जाने वाले वाहन, चंडीगढ़ →पटियाला→चीका→ पेहवा कट से एनएच 182डी से होकर रोहतक→ दिल्ली से नारनौल जा सकते है। अंबाला से चंडीगढ़ जाने वाले वाहन, अंबाला छावनी कैपिटल चौक से साहा→ शहजादपुर→ रामगगढ़ →पंचकूला होते हुए चंडीगढ़ जा सकते हैं।

अंबाला से दिल्ली जाने वाले वाहन का रूट

अम्बाला→ छावनी कैपिटल चौक से साहा→ शाहबाद →कुरुक्षेत्र→ करनाल से होते हुए दिल्ली जा सकते हैं। अंबाला से नारायणगढ़ जाने वाले वाहन, अंबाला छावनी कैपिटल चौक से साहा→ शहजादपुर होते हुए नारायणगढ़ जा सकते हैं। आमजन किसी भी असहज परिस्थिति में डायल 112 पर सम्पर्क करके सहायता प्राप्त कर सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here